सूर्य के बारे में 41 रोचक तथ्य | 41 Sun facts in Hindi

“Sun Facts In Hindi”

“HELLO EVERYONE” आपका स्वागत है दोस्तों मेरी हमेशा यही कोशिश रहती है कि मैं आपको अच्छे से अच्छे रोचक तथ्य दूँ और उम्मीद हैं कि आप लोगों को मेरे द्वारा बताए जाने वाले सारे रोचक तथ्य अच्छे लगते होंगे, तो आज हम एक ऐसे ही विषय को लेकर आए हैं। जिसका नाम सूर्य हैं।

दोस्तों जब से पृथ्वी का अस्तित्व हैं तब से सूर्य का भी अस्तित्व है और मानव सभ्यता बहुत समय से ही सूर्य को देवता मानकर उसकी पूजा करती है, जो की ठीक ही तो है। हमारे पूर्वजों को तो अपने अनुभव के आधार पर ही पता था कि अगर पृथ्वी पर जीवन संभव है तो उसमें सूर्य का एक महत्त्वपूर्ण घटक के रूप में स्थान हैं हालाँकि हमारे पूर्वज पृथ्वी तथा सूर्य के बीच की दुरी पता नहीं कर पाए थे।

जैसे – जैसे मानव का वैज्ञानिक ज्ञान बढ़ा तो मानव ने पृथ्वी के बाहर की दुनिया को जाना जिसे अंतरिक्ष कहा गया। मानव ने पाया कि सूर्य तो ब्रह्माण्ड में एक रेत के टुकड़े से भी छोटा स्थान रखता है। वैसे आज हम सूर्य के बारे में ही रोचक तथ्य जानेंगे, तो चलिए शुरू करते हैं…Let’s go.

सूर्य क्या है?

सौरमंडल के ग्रह जिसके चारों ओर घूमते हैं जो इस प्रणाली का प्रमुख निकाय है वह सूर्य है। सूर्य ऊर्जा की मात्रा में एक विशाल स्त्रोत है। सूर्य का केवल एक भाग ही पृथ्वी पर जीवन का कारण है और यही आवश्यक प्रकाश और गर्मी प्रदान करता है। यह तीन चौथाई हाइड्रोजन तथा बाकी हीलियम है।

सूर्य के बारे में रोचक तथ्य :-

#1 / सूर्य के द्रव्यमान का लगभग 3,36,000 गुना पृथ्वी पर है।
#2 / सूर्य को लगभग संपूर्ण रूप से सही गोला माना जाता है।
#3 / सूर्य हमारी मन्दाकिनी(Milky-Way) के केंद्र से लगभग 24,000-26,000 प्रकाश वर्ष दूर है।
#4 / सूर्य के कोर द्वारा बनाई गई ऊर्जा परमाणु संलयन है। ऊर्जा की यह बड़ी मात्रा तब उत्पन्न होती है जब चार हाइड्रोजन नाभिक एक हीलियम नाभिक में संयोजित होता है।
#5 / सूर्य के अंदर 13,00,000 पृथ्वी को फिट किया जा सकता है।
#6 / सूर्य और पृथ्वी के बीच की दूर 14,95,97,871 किलोमीटर है। सूर्य और पृथ्वी के बीच की इस दूरी को ‘Astronomical Unit‘ कहा जाता है।
#7 / सूर्य की उम्र 4.603 अरब वर्ष है। सूर्य ने अपने आधे हाइड्रोजन को जला दिया है। सूर्य ने अपने जीवन का आधा रास्ता पूर्ण कर लिया है मतलब सूर्य में अभी भी 5 अरब वर्षों के लिए पर्याप्त हाइड्रोजन है। सूर्य वर्तमान में एक पीला बौना तारा है।
#8 / सूर्य पृथ्वी की तरह पूर्व से पश्चिम के बजाय पश्चिम से पूर्व की ओर घूमता है।
#9 / सूर्य सौर हवाएँ उत्पन्न करता है। ये प्लाज्मा (बेहद गर्म आवेशित कण) के बेदखल होते हैं जो सूर्य की परत में उत्पन्न होते हैं। जिन्हें कोरोना के रूप में जाना जाता है और वे सौर प्रणाली के माध्यम से 450 किमी प्रति सेकंड तक यात्रा कर सकते हैं।
#10 / सूर्य का वातावरण तीन परतों से बना है। प्रकाशमंडल, क्रोमोस्फियर, कोरोना।
#11 / सूर्य की सतह का तापमान 5,000 और 5,700°C (9,000-10,300°F) के बीच है जबकि केंद्र का तापमान 1,56,99,726.9°C है।
#12 / सूर्य 220 किमी. प्रति सेकंड की गति से यात्रा कर रहा है। हमारी मन्दाकिनी आकाशगंगा(Milky-Way Galaxy) के केंद्र की एक कक्षा को पूरा करने में सूर्य को लगभग 225-250 मिलियन(22 करोड़ 50 लाख – 25 करोड़) वर्ष लगते हैं।
#13 / एक फोटॉन कण को सूर्य के अन्तः स्थल से सूर्य के बाह्य कक्ष में आने में 40,000 साल लग जाते हैं, जबकि पृथ्वी की सतह तक आने में केवल 8 मिनट लगते हैं।
#14 / सूर्य ने अपने 4.603 अरब वर्ष के अस्तित्व में मन्दाकिनी आकाशगंगा(Milky-Way Galaxy) के केंद्र के 20-18 चक्कर पूर्ण रूप से लगाए हैं। यदि आपको विश्वास नहीं है तो सूर्य के अस्तित्व के समय(4.603 अरब वर्ष) में सूर्य मन्दाकिनी आकाशगंगा का एक चक्कर जिस समय अवधि[225-250 मिलियन(22 करोड़ 50 लाख – 25 करोड़ वर्ष) वर्ष] में पूर्ण करता है उसका भाग दे दो।
#15 / सूर्य के परिक्रमा करने के मार्ग को ‘रविमार्ग‘ कहा जाता है।
#16 / आप पृथ्वी से 17 प्रकाश वर्ष की दूरी के भीतर 50 सबसे करीबी तारे पा सकते हैं। जिनमें से सूर्य निरपेक्ष रूप से चौथा सबसे चमकीला तारा है।
#17 / सूर्य की ऊर्जा का बहुत कम हिस्सा पृथ्वी पर पहुँचता है और उसी का 30 प्रतिशत पानी को भाप बनाने में काम आता है और बहुत सी ऊर्जा पेड़-पौधे समुद्र सोख लेते हैं।
#18 / सूर्य की यह आयु तारकीय विकास के कंप्यूटर मॉडलों के प्रयोग और न्यूक्लियोकोस्मोक्रोनोलॉजी के माध्यम से आकलित हुई है।
#19 / पार्कर सोलर प्रोब(Parker Solar Probe) सूर्य से 2.5 करोड़ किलोमीटर दूर है जो बुध ग्रह से भी नजदीक है। यह सूर्य के इतने नजदीक पहुँचने वाली एकमात्र इंसानी मशीन है।
#20 / सूर्य की रौशनी का सिर्फ 2 अरब वां हिस्सा ही पृथ्वी तक पहुँचता है।
#21 / हमारे सौर मंडल के द्रव्यमान का 99.8% सूर्य का है और उस अंतिम 0.2% में से अधिकांश वृहस्पति से आता है इसलिए पृथ्वी का द्रव्यमान सौर मंडल के द्रव्यमान का एक अंश है। वास्तव में, हम मुश्किल से मौजूद हैं।
#22 / सूर्य का वजन हर सेकंड 50 लाख टन कम हो जाता है।
#23 / सूर्य का वजन अविश्वसनीय है – 19,89,10,00,00,00,00,00,000 किलोग्राम है।
#24 / सूर्य का सतह क्षेत्र पृथ्वी के सतह क्षेत्र से 11,990 गुणा अधिक है।
#25 / सूर्य का विशाल गुरुत्वाकर्षण के कारण चार बौने ग्रह प्लूटों के अतिरिक्त खिंचाव द्वारा कक्षा में रखे गए हैं। – Cares, Haumea, Makemake and Eris.

#26 / सूर्य ने अपना जीवन-चक्र अन्य सभी सितारों की तरह ही शुरू किया जैसे कि एक गैस बादल जिसे नेबुला कहा जाता है, कि तरह।
#27 / सूर्य में 5 अरब वर्ष बाद पूरी हाइड्रोजन जल जाने के बाद भी यह लगभग 130 मिलियन वर्षों तक हीलियम को जलाने में लगा देगा। इस समय के दौरान यह इस बिंदु तक विस्तारित होगा कि यह बुध, शुक्र और पृथ्वी को निगल जाएगा। इस दृष्टि से हमारा सूर्य एक लाल दैत्य बन गया होगा।
#28 / सूर्य की संरचना में 73.46% हाइड्रोजन और 24.85% हीलियम हैं। विभिन्न धातुएँ सूर्य की संरचना में 0.1% से भी कम मात्रा में शामिल हैं।
#29 / प्रत्येक 100 साल या तो सूर्य एक छोटी “नींद” में जाने लगता है और दो या तीन दशकों के लिए, इसकी गतिविधि कम हो जाती है और जब यह जागता है, तो यह बहुत अधिक सक्रिय और हिंसक हो जाता है। वैज्ञानिकों को यकीन नहीं है कि ऐसा क्यों हैं।
#30 / यदि आप अपनी नियमित गति(लगभग 644km/h) से उड़ने वाले एक सामान्य विमान से सूर्य की यात्रा करने वाले थे, तो आपको बिना रुके वहाँ पहुँचने में 20 साल लग जाएंगे।
#31 / सूर्य 25 दिन में एक बार अपनी धूरि पर घूमता है।
#32 / सूर्य का ऊर्जा उत्पादन लगभग 386 अरब मेगावाट है।
#33 / इस तथ्य के कारण कि हीलियम हाइड्रोजन की तुलना में हल्का है; हर बार हाइड्रोजन नाभिक सूर्य के कोर के भीतर हीलियम नाभिक बनाने के लिए एक साथ फ्यूज करता है, तो यह अपने द्रव्यमान की एक छोटी राशि खो देता है।
#34 / सूर्य पर शक्तिशाली चुंबकीय क्षेत्र होने के कारण यहाँ कई चुंबकीय तूफान आते हैं। जहाँ वे काले धब्बे के रूप में दिखते हैं। इन्हें Sunspots कहा जाता है।
#35 / सूर्य का भी एक व्यावहारिक चक्र है जिसमें वो हर 11 साल में खुद को दोहराता है। जिसमें Sunspots की संख्या में काफी भिन्नता होती है।
#36 / सूर्य की सौर हवाएँ अंतरिक्ष की कुछ सुन्दर घटनाओं को भी पैदा करती हैं जैसे धूमकेतु की चमकदार पूँछ और अरोरा बोरेलिस या उत्तरी रोशनी।
#37 / पृथ्वी जैसे ग्रह जिनके पास मजबूत चुंबकीय क्षेत्र हैं, वे अधिकांश आवेशित कणों की अवहेलना करते हैं जो ग्रह के निकट आते ही सौर हवाएँ बनते हैं।
#38 / सूर्य को मानव जाति में देवता भी माना जाता है। प्राचीन मिस्र के ‘रा‘ नाम के एक सूर्यदेव थे और एज़्टेक में एक सूर्यदेव भी थे। जिनका नाम ‘टोनतिउह‘ था।
#39 / कई सदियों पहले ज्योतिषियों का मानना था कि पृथ्वी हमारे ब्रह्माण्ड का केंद्र है जिसमें सूर्य एक ग्रह की परिक्रमा करता है, उन्होंने सोचा कि चन्द्रमा सबसे निकटतम ग्रह है फिर बुध, शुक्र या सूर्य अगले निकटतम ग्रह के रूप में, बृहस्पति और शनि पृथ्वी की सबसे दूर परिक्रमा करते हैं।
#40 / यदि सूर्य की चमकदार सतह को हटा दिया जाता है, तो हमें केवल अँधेरा दिखाई देगा। यद्यपि सूर्य की बाहरी सतह आपके रेटिना को जलाने के लिए पर्याप्त चमकती है फिर भी सूर्य की कोर पिच काली है।
#41 / सूर्य को ‘सोल‘ भी कहा जाता है जो ग्रीक सूर्य देवता हेलियोस के रोमन समकक्ष है।
यह भी पढ़ें 👉 Psychology Facts in Hindi.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *